साइनस के लक्षण, कारण और घरेलू इलाज – Sinusitis Symptoms and Home Remedies in Hindi

Home Remedies for Sinus Headaches

साइनस में क्या क्या प्रॉब्लम होती है? : आज के इस लेख में आप साइनस (sinusitis infection) की वजह से होने वाली सिरदर्द के कारण, लक्षण (sinusitis headache symptoms, causes and home remedies )और घरेलू उपाय जानेगें।


सर्दी का मौसम बड़ा सुहावना लगता है। हो सकता है कि आप भी सर्दी आने का इंतजार करते हों। पर जिन लोगों को sinusitis की समस्या होती है उनके लिए ये मौसम किसी आफत से कम नहीं होता।

दोस्तों, Sinusitis की समस्या अब ज्यादा लोगों में नजर आने लगी है। अगर आपको या आपके जानने वालों में किसी को ये problem है तो हमारा आर्टिकल आपकी बहुत मदद करेगा। क्योंकि इस आर्टिकल में हम आपको sinusitis के कारण, sinus headache की home remedies और उससे बचाव के तरीके बताएंगे।


साइनस क्या है? – What is Sinusitis?

Sinus हमारी नाक की हड्डी के दोनों तरफ, cheek bone और आंखों के ऊपर skull bone में पाए जाने वाले छोटे छेद होते हैं। ये skull को हल्का बनाए रखते हैं और सांस लेने में मदद करते हैं। जिस तरह हमारी नाक के अंदर mucus membrane की लाइनिंग होती है वैसी ही साइनस पर भी होती है। इनमें किसी तरह की सूजन या रुकावट आने पर sinusitis की समस्या जन्म लेती है। आम बोलचाल की भाषा में इसे साइनस प्रॉब्लम या सिर्फ साइनस ही कह दिया जाता है।

साइनस के कारण – Causes of Sinusitis Headache

Allergy:- जिन लोगों को किसी चीज से allergy होती है, उसके संपर्क में आते ही छींके शुरु हो जाती हैं और नाक से पानी निकलने लगता है। बार-बार यही होते रहने पर sinus की membrane में सूजन आ जाती है और sinusitis होने के चांस बढ़ जाते हैं। Allergen बहुत से हो सकते हैं जैसे धूल, पराग कण (pollen grain), जानवरों के बाल, feather, कोई फूल, leather आदि।

Infection:- Viral, bacterial या फिर fungal infection की वजह से भी ये समस्या हो सकती है। ऐसे में mucus production बढ़ जाता है जो sinuses को block कर सकता है।

नाक की बनावट खराब होना:- नाक की हड्डी टेढ़ी हो जाने पर respiration सही तरीके से नहीं हो पाता। इस कंडीशन को deviated nasal septum या DNS कहते हैं। ऐसे में नाक से excrete होने वाला waste पूरी तरह बाहर नहीं आता और sinus में जमने लगता है। इससे sinusitis हो सकता है। ये deformity  congenital भी हो सकती है या फिर accidental भी। Nasal polyp या tumour भी नाक को block कर देते हैं। जिससे sinusitis के चांस बढ़ जाते हैं।

इसके अलावा chronic cough and cold, pollution, poor immunity, dental infection, smoking की वजह से भी sinusitis हो सकता है।

मौसम बदलने और खास तौर पर सर्दियों में साइनस की प्रॉब्लम बहुत बढ़ जाती है। सर्दी में हवा शुष्क होती है। हीटर और ब्लोअर जैसी चीजों से हम वातावरण में dryness और बढ़ा देते हैं। Nasal cavity भी dry हो जाती है। इन सबकी वजह से infection के चांस बढ़ जाते हैं और sinus की तकलीफ ज्यादा हो जाती है।


Read also:- Home Remedy for Cough | खांसी के लक्षण, कारण और घरेलू उपाय



साइनस के लक्षण – Symptoms of Sinusitis Headache

Sinus के लक्षण इस बात पर depend करते हैं कि कौन सा sinus प्रभावित हुआ है। फिर भी कुछ common symptoms इस तरह हो सकते हैं

सरदर्द:- ये किसी भी तरह के sinus में मिलने वाला सबसे common symptom है। सर में भारीपन और तेज दर्द होता है जो सर के हिलाने-डुलाने पर और बढ़ जाता है। क्योंकि इस तरह sinus cavity में भरा हुआ liquid move करता है।

आंखों के चारों ओर दर्द करना:- आंखों में भारीपन, पढ़ने में तकलीफ, नजर का धुंधला होना, आंखों से पानी आना जैसे लक्षण होते हैं।

चेहरे पर swelling होना और congestive feel करना:- साइनस की swelling चेहरे पर बाहर से भी नजर आने लगती है। पूरे चेहरे में एक congestion सा महसूस होता है। छूने पर तेज दर्द करता है।

Fever:- ये भी sinusitis की severity के हिसाब से mild या high हो सकता है।

इनके साथ-साथ गले में दर्द, खराश, खांसी, कान और दांतों में दर्द, थकान, चिड़चिड़ापन, loss of smell, आवाज में बदलाव जैसे secondary symptoms भी हो सकते हैं।

साइनस सिरदर्द के घरेलू इलाज – Home Remedies for Sinus Headaches

दोस्तों अब हम कुछ hone remedies बता रहे हैं जो sinus headache में आपको बहुत मदद करेंगी।

1.प्याज का रस- एक मीडियम साइज के प्याज का रस गर्म पानी में मिलाकर भाप लें। प्याज में सल्फर होता है जो इन्फेक्शन कम करने में मदद करता है। भाप की वजह से mucus loose होकर नाक से बाहर निकलने लगता है। इससे congestion कम हो जाता है और सरदर्द में आराम आ जाता है। प्याज न खाने वालों के लिए आगे कुछ और नुस्खे दिए गए हैं।

2. पुदीना और युकेलिप्टस का तेल- गर्म पानी में इन दोनों तेलों की कुछ बूंदें डालकर भाप लें। इससे सर में हल्कापन महसूस होता है। आप इसमें टी ट्री ऑयल भी मिला सकते हैं।

3. हर्बल चाय- इसे आप तुलसी, अदरक, पुदीना और लौंग डालकर बना सकते हैं। इन तत्वों की खुश्बू और चाय की गर्माहट सरदर्द भगाने में जादू सा असर दिखाती है।

4. नमक के पानी का स्प्रे- इसे सलाइन वॉटर कहते हैं। ये बाजार में भी मिलता है पर इसे घर पर भी बड़ी आसानी से बनाया जा सकता है। शुद्ध पानी लें या फिर पानी को अच्छी तरह उबाल लें। एक गिलास पानी के लिए एक छोटा चम्मच नमक के अनुपात से saline water बना लें। इसे एक स्प्रे वाली बॉटल में भर लीजिए। हर घंटे इसे नाक में spray करते रहिए। इससे बहुत से फायदे एक साथ मिलते हैं। Sinus membrane की सूजन कम हो जाती है। नमक एंटी बैक्टीरियल की तरह काम करता है। और Nasal passage hydrate भी हो जाता है। इस तरह सर दर्द में राहत मिल जाती है।

सोते हुए सर ऊंचा रखें। इससे sinus cavity में जमा fluid नाक की तरफ आ जाता है और सर का congestion कम होने लगता है।

5. मेथी दाना- एक चम्मच मेथी दाना, दो गिलास पानी में डालकर उबाल लें। जब ये पानी आधा रह जाए तो इसे उतार लें। जब ये पीने लायक तापमान पर आ जाए तो घूंट-घूंट करके पीते जाएं। आपको आराम महसूस होगा। अगर कड़वाहट अच्छी न लगे तो थोड़ी शहद मिला सकते हैं।


Read also:- Home Remedies for Sore Throat | गले में खराश के लिए घरेलू उपचार



कुछ बातों पर ध्यान देकर आप sinus और sinus headache से अपना बचाव कर सकते हैं।


• ज्यादा पानी पिएं।
• धुएं, धूल और allergy वाली चीजों से बचें।
• Breathing exercise करें।
• इम्यूनिटी बढ़ाने वाली चीजें खाएं।
• अगर आपको सर्दी-खांसी लगी रहती है तो उचित इलाज कराएं।
• यदि smoking की आदत है तो उसे छोड़ दें।
• आपको respiratory tract की कोई बीमारी हो जैसे asthma, DNS तो डॉक्टर से तुरंत सलाह लें।
• बाहर निकलते हुए अपना चेहरा अच्छी तरह ढंक लें।

Conclusion
आज आपने sinus headache के बारे में जाना। यदि आप समय रहते अपना बचाव करते हैं तो बहुत अच्छी बात है। वरना आगे चलकर अस्थमा जैसे complications हो सकते हैं।

हम आपको ये सलाह देंगे कि किसी भी उपाय को अमल में लाने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। साइनस से बचाव का सबसे अच्छा तरीका है कि आप अपना पूरा ध्यान रखें और उन चीजों से दूर रहें जिससे ये problem aggravate हो सकती है।



पूछे जाने वाले प्रश्न

1. Sinus headache क्यों होता है?

Sinus के सूजने पर उनके आस-पास के हिस्सों पर दबाव पड़ने लगता है। इस वजह से आपको दर्द होता है। ये throbbing pain होता है। दूसरी बात यह है कि आपको सांस लेने में ज्यादा जोर लगाना पड़ता है। इससे सर की नसों पर दबाव पड़ता है और सरदर्द होने लगता है। इसे मामूली समझकर नजरअंदाज नहीं करना चाहिए और न ही अपने मन से पेनकिलर लेना चाहिए।


2. Sinus की जांच कैसे होती है?

यदि ऊपर बताए गए लक्षण आपको दस दिन से ज्यादा हों तो आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए। ज्यादातर मामलों में डॉक्टर आपके लक्षणों और physical examination से ही बीमारी पहचान लेते हैं। हो सकता है कि वो आपको nasal endoscopy, CT scan या फिर एलर्जी टेस्ट जैसी कुछ जांच कराने के लिए बोल दें। ये सब आपके symptoms और उनकी गंभीरता पर डिपेंड करता है।


आपके कोई सवाल हों या किसी टॉपिक पर जानकारी चाहते हों तो हमें कमेंट सेक्शन में बताएं। यदि आपको ये आर्टिकल पसंद आए तो इसे  से ज्यादा शेयर करें। आपको informative articles पढ़ना अच्छा लगता है तो हमारे होम पेज पर जाकर हमें सब्स्क्राइब कर लें। इस आर्टिकल को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद।

By:-Nidhi Neer
Lifewingz.com
Image credits:  canva.comfreepik.com



प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.