Home Remedies for Sore Throat | गले में खराश के लिए घरेलू उपचार

Home Remedies for Sore Throat

Home Remedies for Sore Throat: इस आर्टिकल में जानिए गले में खराश होने के कारण, लक्षण और घरेलू उपचार। Sore throat: causes, symptoms and home remedies in Hindi.


बदलता मौसम अपने साथ कई बीमारियां लाता है। गले की खराश भी ऐसी ही एक problem है। हालांकि यह साल में किसी भी वक्त हो सकती है पर बरसात और सर्दी में इसका prevalence ज्यादा नजर आता है। आप भी कभी न कभी इससे प्रभावित हुए होंगे।

अगर आप गले में खराश होने के कारण और इससे बचने के आसान तरीके जानना चाहते हैं तो यह आर्टिकल आपको पूरा पढ़ना चाहिए। इसको पढ़कर आपको सारी information मिल जाएगी और दूसरा article पढ़ने की जरूरत नहीं होगी।

गले में खराश होने के कारण – Causes of sore throat

किसी भी समस्या के कारण जानना सबसे जरूरी है ताकि आप उससे आसानी से बचाव कर सकें। गले में खराश होने के कारण बहुत सारे हो सकते हैं।

1. सर्दी-जुकाम (Cold and cough)
ये गले में खराश होने का सबसे आम कारण है। इसकी वजह bacterial या viral हो सकती है।

2. एलर्जी (Allergy)
कुछ लोगों को किसी खास चीज से एलर्जी होती है जैसे feather, pollen grain या dust, इनके contact में आने पर गले में खराश हो सकती है।

3. संक्रमण (Infection)
जैसे कि pharyngitis, laryngitis, tonsillitis, strep throat, और STD जैसे कि gonorrhea और chlamydia

4. रसायनों के संपर्क में आना (Chemical exposure)
ये कई तरह से हो सकता है। Factory workers को वहां काम आने वाले किसी chemical के contact में आने पर reaction हो सकता है। घरेलू साफ-सफाई के products से भी reaction हो सकता है। कुछ लोग bleaching powder या acid का cleaning में इस्तेमाल करते हैं। उसका धुआं भी गले की खराश की वजह बन सकता है। इस condition में आंखों में जलन, आंखों और नाक से पानी आना जैसे लक्षण भी नजर आते हैं।

5. आवाज का दुरुपयोग (Misuse of the voice)
कभी-कभार बहुत ऊंची आवाज में या लगातार बहुत देर तक बोलने पर या गाना गाने पर गले में खराश हो जाती है। यह खास तौर पर उनमें हो सकता है जिनको लगातार बोलना होता है। जैसे teachers, public speakers, trainers, singers. इन लोगों में vocal cord और throat muscles पर ज्यादा दबाव पड़ता है। इससे sore throat हो सकता है।

इसके अलावा Pollution, Smoking and alcohol, hygiene maintain न करना जैसे कारण भी जिम्मेदार हो सकते हैं। सर्दी के मौसम में बहुत देर तक हीटर के सामने बैठने पर भी गले में खराश महसूस हो सकती है।


Read also:- Immunity Booster Kadha | इम्युनिटी बढ़ाने के लिए काढ़ा



गले में खराश होने के लक्षण – Symptoms of throat infection

गले में खराश होने के लक्षण इस तरह के हो सकते हैं।

• गले में दर्द
• खाने-पीने में तकलीफ
• बोलने में परेशानी
• गले में कांटे जैसी चुभन या खुजली
• गले के अंदर सफेद patches बनना
• खांसी
• बुखार और बदन दर्द
• आंखों में लाली और पानी आना
• छींक व नाक से पानी आना
• आवाज का भारी हो जाना

गले में खराश के घरेलू उपायHome remedies for sore throat

अब हम आपको बताते हैं गले में खराश के घरेलू उपाय क्या है जिनको आप अपनाकर गले की खराश से छुटकारा पा सकते है।

1. गरारे करना- गले में खराश होने पर गुनगुने पानी में नमक मिलाकर गरारे करने से बहुत आराम आता है। दिन में तीन से चार बार गरारे करें। नमक की जगह बीटाडीन या फिटकरी से भी गरारे कर सकते हैं।

2. शहद का इस्तेमाल करें- शहद में natural anti inflammatory गुण होते है। जो गले को soothing प्रदान करते है। एक गिलास गुनगुने पानी में एक चम्मच शहद मिलाकर पिएं।

3. मसाला चाय दे गले की खराश में आराम- मसाला चाय में लौंग, कालीमिर्च, अदरक, तुलसी जैसी चीजें डाली जाती हैं। ये सब गले की खराश में बहुत असरदार होती हैं।

4. तुलसी और अदरक का काढ़ा है बेहतरीन होम रेमेडी- कुछ तुलसी की पत्तियां और एक छोटा टुकड़ा अदरक एक कप पानी में उबालें। जब पानी आधा रह जाए तो इसे छानकर पी लें। अगर आपको लगता है कि ये कड़वा लगेगा तो इसमें थोड़ी शहद या गुड़ मिलाया जा सकता है।

5. हल्दी वाला दूध- हल्दी में antibiotic और anti inflammatory गुण होते हैं। गर्म दूध में हल्दी मिलाकर पीने से बहुत फायदा होता है।

6. गले की सिंकाई- इसे आप दो तरह से कर सकते हैं। चाहें तो गुनगुने पानी में साफ कपड़ा भिगा लें। इसे निचोड़कर गले को कुछ देर cover करें। आप एक साफ और सूखे कपड़े को तवे या माइक्रोवेव में गर्म करके भी अपने गले पर रख सकते हैं। इन तरीकों से खराश और दर्द में बहुत आराम आता है।

7. भाप लें- गर्म पानी में थोड़ी अजवाइन डालकर भाप लें। ध्यान रखिए कि भाप लेते हुए सिर और मुंह अच्छी तरह ढंका रहे और भाप लेने के बाद जब तक आपका शरीर room temperature तक नहीं आ जाता पंखा न चलाएं। न ही कमरे से बाहर निकलें।

8. लहसुन चूसें- लहसुन में antibacterial गुण होते हैं। इसकी एक कली मुंह में रखकर चूसें। ऐसा दिन में दो-तीन बार करें।

गले की खराश से बचने के लिए क्या करें ?

गले में खराश होने पर आपको कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए/ इन बातों पर ध्यान देकर आप गले की खराश से बच सकते हैं।

• साफ-सफाई का पूरा ध्यान रखें।
• खाने के पहले साबुन से अच्छी तरह हाथ धोएं।
• टॉयलेट साफ रखें और इस्तेमाल के बाद अच्छी तरह हाथों की सफाई करें।
• धुले हुए साफ कपड़े पहनें।
• दूसरों के झूठे खाने या बर्तनों से दूर रहें।
• यदि किसी को सर्दी-जुकाम है तो उससे दूर रहें।
• छींकने या खांसने पर टिशू पेपर का इस्तेमाल करें।


Read also:- खांसी के लक्षण, कारण और घरेलू उपाय



गले में खराश होने पर क्या न करें ?

गले में खराश होने पर आपको इन सबसे बचना चाहिए।

• ज्यादा देर तक बोलना।
• तेज आवाज में बोलना या चिल्लाना।
• खट्टी और मसालेदार चीजें जैसे नींबू, आचार, चटनी का सेवन।
• ठंडी चीजें जैसे आइस्क्रीम, शर्बत, ठंडा पानी पीना।
• गाने गाना।
• धूल और धुआं।
• सिगरेट और शराब।

Conclusion:-

इस आर्टिकल में आपने जाना गले में खराश होने के कारण, लक्षण और गले की खराश के घरेलू उपाय (throat infection home remedies) हम उम्मीद करते हैं कि आपको gale mein infection और gale me kharash home remedy की पूरी जानकारी मिल गई होगी। हम पूरी रिसर्च और स्टडी करके आप तक जानकारी लाते हैं। फिर भी आप हमेशा ध्यान रखिए कि किसी भी उपाय को अपनाने से पहले अपने चिकित्सक की सलाह जरूर लें।

गले की खराश दो से तीन दिनों में ठीक होने लगती है पर उसके बाद आपको डॉक्टर से consult जरूर करना चाहिए। Covid 19 के बढ़ते cases में तो ये और भी जरूरी है कि आप अपनी सेहत का पूरा ध्यान रखें।


अगर आप वास्तुशास्त्र, रेसिपी, रिलेशनशिप पर कुछ अच्छे articles पढ़ना चाहें, तो हमारा home page visit करें। अगर आपको हमारा काम अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों और सोशल मीडिया पर शेयर करें और हमारा blog subscribe करें।
धन्यवाद।

By:-Nidhi Neer
Lifewingz.com
Image credits:  canva.comfreepik.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.