Immunity Booster Food for Kids | बच्चे की इम्युनिटी बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ

Immunity boost for kids

Immunity boost for kids: बच्चों को कोरोना की तीसरी लहर से बचाने के लिए उनकी इम्युनिटी मजबूत (immune boost) करने पर जोर दिया जा रहा है। इसलिए आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे कि इम्यून सिस्टम क्या होता है?, बच्चों में इम्यूनिटी कम होने के लक्षण, कारण क्या है? और बच्चों की इम्यूनिटी (how to boost immunity in children) कैसे बढ़ाएं।



हंसते खेलते बच्चे किसे अच्छे नहीं लगते। कहते हैं ना कि बच्चे फूलों की तरह होते हैं। जैसे फूल पलभर में मुरझा जाते हैं वैसे ही बच्चे भी बीमारियों की चपेट में जल्दी आ जाते हैं। और कमजोर इम्यूनिटी इसकी एक बड़ी वजह होती है। अगर आपको भी बच्चों की सेहत की चिंता सताती है तो ये आर्टिकल पूरा पढ़िए। क्योंकि आज हम बात करेंगे बच्चों में इम्यूनिटी बढ़ाने वाले (best immunity booster food) आहार के बारे में।

इम्यून सिस्टम क्या होता है? – What is immune system?

इम्यून सिस्टम हमारे शरीर का defence mechanism है। ये बहुत सी बीमारियों और इन्फेक्शन से बचने और उनसे निपटने का काम करता है। इम्यून सिस्टम में WBC, antibodies, spleen, thymus के अलावा gut में पाए जाने वाले microbes यानि gut microbiome भी बहुत बड़ी भूमिका निभाते हैं।

इम्यून सिस्टम किस तरह डेवलप होता है?

शिशु को गर्भ में माँ के शरीर से antibodies मिलती हैं। ये जन्म के बाद बच्चे को प्रोटेक्शन देती हैं। हालांकि माँ का अपना immunity level भी इसमें बड़ी भूमिका निभाता है। जन्म के बाद breast milk बच्चे को इम्यूनिटी देता है। अगले दो से तीन महीनों में बच्चों में इम्यून सिस्टम विकसित होना शुरु होता है। सात से आठ वर्ष की उम्र तक ये सही तरह से विकसित हो पाता है। और बढ़ती उम्र के साथ ये धीरे-धीरे मजबूत होने लगता है। जितनी बार बच्चे infectious agent के contact में आते हैं उनमें antibodies बनती हैं। Vaccination भी इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।


Read also:- How to Boost Immunity | इम्युनिटी पावर कैसे बढ़ाएं



बच्चों में इम्यूनिटी कम होने के लक्षण – Symptoms of low immunity in children.

अगर आपका बच्चा जल्दी बीमार पड़ता है, चोट लगने पर जल्दी नहीं भरती, उसका पेट खराब रहता है या उसका शारीरिक विकास धीमा है तो ये कमजोर इम्यूनिटी की वजह से हो सकता है। कमजोर इम्यूनिटी वाले बच्चों का मानसिक विकास भी प्रभावित होता है। ऐसे बच्चे पढ़ाई में पिछड़ सकते हैं। इन बच्चों का वजन नहीं बढ़ता और उनमें चुस्ती-फुर्ती नहीं होती। 

बच्चों में इम्यूनिटी कमजोर होने के कारण – Causes of low immunity in children.


• सीजेरियन सेक्शन:-

गर्भ में बच्चे के लिए germ free environment होता है। नॉर्मल डिलीवरी में बच्चा birth canal से बाहर आते हुए माता के vaginal flora (group of microbes) के contact में आता है। और उसमें strong microbial environment डेवलप होता है। ये good bacterias होते हैं जो immunity बढ़ाते हैं। जबकि सीजेरियन सेक्शन से पैदा हुए बच्चे ऐसे flora के संपर्क में नहीं आते। इसलिए उनमें इतना strong immune system डेवलप नहीं होता है। रिसर्च कहती हैं कि इन बच्चों में आगे चलकर मोटापा, फूड एलर्जी, अस्थमा, टाइप 1 डायबिटीज और दूसरी ऑटो इम्यून बीमारियों की संभावना बढ़ जाती है।

• एंटीबायोटिक्स का बहुत इस्तेमाल:-

Gut microbiome, immunity मजबूत बनाने में बहुत मदद करते हैं। आजकल एंटीबायोटिक्स फैशन बनते जा रहे हैं। जरूरत पड़ने पर इनको डॉक्टर की सलाह से लेने में कोई बुराई नहीं है। पर एंटीबायोटिक्स का unnecessary इस्तेमाल इस microbiome को डैमेज करता रहता है। स्टडीज से पता चला है कि जन्म लेने के बाद छह महीनों में ही बच्चों को antibiotics दे दिए जाएं तो bifidobacterium जैसे बहुत से gut बैक्टीरिया की ग्रोथ खराब हो जाती है। जो हमारी immunity को मजबूत करते हैं।

• सही समय पर vaccination नहीं होना:-

जन्म के बाद निश्चित अंतराल पर बच्चों को वैक्सीन लगाई जाती हैं। इनमें मेन डोज और बूस्टर डोज दोनों ही होती हैं। अगर किसी वजह से कोई वैक्सीन छुट जाए या schedule बिगड़ जाए तो बच्चों की इम्यूनिटी कमजोर रह जाती है।

Nutrients की कमी:-

बड़ों की तरह बच्चों को भी सही मात्रा में nutrients लेने चाहिए। अक्सर माता-पिता का ध्यान इस बात पर रहता है कि बच्चा बस पेट भरकर खा ले। पर उसके पोषण की बात पीछे छूट जाती है। बच्चे तो चिप्स, कोल्ड ड्रिंक, आइस्क्रीम या चॉकलेट से भी पेट भर लेते हैं। पर आप खुद सोचिए इससे उनको कौन से पोषक तत्व मिल पाएंगे? आप बच्चों के डॉक्टर या डाइटीशियन से मिलकर एक डाइट चार्ट तैयार करवा सकते हैं। नहीं तो कम से कम इस बात को याद रखें कि बच्चे के खाने में प्रोटीन, विटामिन, कार्बोहाइड्रेट, फैट, मिनरल्स जैसे सारे तत्व हों।

इनके अलावा genetic या autoimmune disorder, नींद की कमी, poor hygiene, poor digestion, बार-बार बीमार पड़ना, breast feed न करवाना, junk and processed food जैसे factors भी इसमें अपनी भूमिका निभाते हैं।


Read also:- Immunity booster kadha recipe in hindi | इम्युनिटी बढ़ाने के लिए काढ़ा



बच्चों की इम्यूनिटी बूस्ट करने वाले आहारImmunity booster food for kids


1. माँ का दूध:-

ये बच्चों की इम्यूनिटी बढ़ाने में बहुत मददगार होता है। नवजात शिशु को माँ का दूध ही इम्यूनिटी देता है। इसमें शिशु के लिए जरूरी मात्रा में कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, फैट और antibodies होती हैं। रिसर्च ये बताती हैं कि जिन बच्चों को माँ के दूध के अलावा कोई दूसरा दूध दिया जाता है उनकी इम्यूनिटी कमजोर होती है। और breastfeed बच्चों में डायरिया, लंग इन्फेक्शन और वायरल इन्फेक्शन के चांस दूसरे बच्चों से बहुत कम होते हैं। WHO दो साल की उम्र तक breastfeeding recommend करता है।


2. दही:-

बच्चों का इम्यून सिस्टम मजबूत बनाने के लिए दही एक अहम भूमिका निभा सकता है। दही हड्डियों और दांतों को मजबूत बनाता है। आप दही को लस्सी या छाछ के रूप में अपने बच्चे को दे सकते हैं।

3. सब्जियों और फलों का भरपूर इस्तेमाल करें:-

सब्जियों और फलों में तरह-तरह के विटामिन, मिनरल और micro nutrients होते हैं। इनकी कमी से immune system weak होने लगता है। इसलिए बच्चे के भोजन में सब्जियां और फल जरूर शामिल करें। इसमें भी विटामिन सी और ए वाली चीजों पर खास ध्यान दें।

बच्चे हेल्दी चीजों से दूर भागते हैं। इसलिए आपको थोड़ा creative बनना होगा। मेरे घर के बच्चे भर्ता नहीं खाते थे। तो मैंने उसमें मटर और चीज डालकर पाव भाजी की तरह सर्व करना शुरु किया। सेब, अनानास और नाशपाती जैसे फलों को alphabates की तरह काट कर देने लगी। कुछ फलों को कस्टर्ड में मिला दिया। अब बच्चे मजे से ये सब खाते हैं। प्लेट जितनी presentable होगी बच्चे भोजन की तरफ उतना आकर्षित होंगे।


4. ड्राई फ्रूट्स:-

ड्राई फ्रूट्स में विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट के मुख्य स्रोत होते हैं। बच्चों की इम्युनिटी स्ट्रांग करने के लिए आप उन्हें बादाम, काजू, अखरोट दे सकते हैं।

5. सीजनल चीजों को बढ़ावा दें:-

आजकल हर फल सब्जी बारह महीने मिलते हैं। लेकिन सबसे ज्यादा फायदा seasonal produce से ही मिल सकता है। और जहां तक संभव हो ऑर्गेनिक एवं पेस्टीसाइड फ्री चीजों का इस्तेमाल करें। ताकि food items के nutrients बने रहें।

6. अंडे:-

बच्चों के इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने के लिए अंडे खाना उनके लिए फायदेमंद है। क्योंकि अंडे में पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन, विटामिन D, और आयरन पाया जाता है। जो बच्चों के शारीरिक और मानसिक विकास के लिए बहुत जरूरी है।

7. पालक:-

पालक कई विटामिन और खनिजों से भरा होता है जो हमारे इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता हैं। इसमें विटामिन ए, ई, सी, और के, फोलेट, मैंगनीज, जिंक, सेलेनियम और आयरन होता है। ये सभी पोषक तत्व इम्यून सिस्टम के कार्य को बढ़ाने के लिए अलग-अलग तरीकों से काम करते हैं।

इन बातों का भी रखें ख्याल


साफ सफाई का रखें ध्यान:-

बच्चों के आसपास साफ-सफाई रखना बहुत जरूरी है। उनके इस्तेमाल की जो चीज धोई जा सकती है उसे धो लें। बाकी में आप धूप लगवा सकते हैं। आप डॉक्टर से सलाह करके disinfectant spray इस्तेमाल कर सकते हैं। बच्चों को सफाई का महत्व समझाइए। बाहर से आने पर हाथ धोने और कपड़े बदलने के लिए कहिए। खाने से पहले और बाद में एवं बाथरूम के इस्तेमाल के बाद भी हाथ धोने की आदत डलवाइए।

अगर घर में pets हैं तो उनकी सफाई और सेहत पर बहुत ध्यान दीजिए। समय-समय पर veterinarian के पास चेकअप के लिए ले जाएं और जरूरी टीके लगवाते रहें।

• व्यायाम करना भी है जरूरी:-

नियमित व्यायाम बड़ों को ही नहीं बल्कि बच्चों के लिए भी जरूरी है। लोग सोचते हैं बच्चे खेलकूद लेते हैं उतनी activity काफी है। पर बच्चों को भी साइकिलिंग, स्विमिंग, जॉगिंग या वॉक करने से फायदा मिलता है। योगाभ्यास भी बच्चों में इम्यूनिटी बढ़ाता है।

• झूठा खाना न दें:-

अक्सर family members एक दूसरे का झूठा खा पी लेते हैं। वैसे तो ये आदत किसी के लिए सही नहीं है। पर बच्चों को तो खासतौर पर इससे दूर रखिए। वरना सलाइवा के माध्यम से इन्फेक्शन फैलने के चांस हो सकते हैं।


Conclusion:-
आज आपने जाना बच्चों की इम्यूनिटी कैसे बढ़ाएं। पुराने जमाने में लोग इम्यूनिटी को लेकर बहुत जागरुक नहीं थे। पर मेडिकल साइंस में हो रही तरक्की ने इसका महत्व समझाया है। और अब COVID19 के बाद तो शायद ही कोई होगा जो इम्यूनिटी बढ़ाने को लेकर सीरियस न हो। और बच्चों को तो इसकी खास जरूरत है।


आपको ये kids immunity booster आर्टिकल कैसा लगा हमें कमेंट करके बताएं। हमारे होम पेज पर आप ऐसे ही informative articles पढ़ सकते हैं। अगर हमारा काम पसंद आए तो इसे शेयर जरूर करें।
By:-Nidhi Neer
Lifewingz.com
Image credits: Canva.com, Freepik.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.