Back Pain Reason – 7 आदतें जो आपकी रीढ़ की हड्डी के लिए हानिकारक है!

kamar dard ke karan

रीढ़ की हड्डी का दर्द या कमर का दर्द ( kamar dard ) से कई लोग पीड़ित है। kamar dard ke karan ( back pain reason ) काफी चीज़े हो सकती है,  कमर दर्द क्यों होता है ( lower back pain reason ) इसका पता होना चाहिए। इस पोस्ट में kamar dard ka ilaaj kya hai , kamar dard ki exercise और yoga और पीठ दर्द का इलाज या उपाय, इन सबका समाधान मिलेगा।

पीठ और कमर में दर्द (  kamar dard ) की problem आम है, और ज्यादातर लोगों को ये आए दिन होती ही रहती है। Inactive lifestyle और gadgets का जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल इसके कुछ प्रमुख कारण है। तो चलिए, आज हम आपको ऐसी ही कुछ habits के बारे में बताते हैं, जो आपकी रीढ़ की हड्डी पर भारी पड़ रही हैंI Medical की भाषा में इसे stress injury कहा जाता है। kamar dard ke karan के बारे में हम discuss करेंगे।

रीढ़ की हड्डी का दर्द kamar ka dard ) दर्द सबसे आम और खतरनाक होता है। कमर दर्द की समस्या सिर्फ बुजुर्गों के इलावा किसी भी उम्र के व्यक्ति को हो सकती है।

वैसे कमर दर्द से कोई भी पीड़ित हो सकता है, लेकिन यह समस्या ज्यादातर महिलाओं और बढ़ती उम्र  के लोगों में देखा जाता है।

कमर दर्द के कारण ( back pain reason ) कई हो सकते हैं जैसे लंबे समय तक लगातार बैठकर काम करने और गलत pose की वजह से कमर दर्द की समस्या होती है। इसके अलावा लगातार traveling करने वाले लोगों को भी ऐसी problem हो सकती है।

इसके अलावा physical activity और exercise की कमी से भी कमर के आसपास की muscles नाज़ुक पड़ने लगती है और थोड़ा सा झटका लगने पर भी muscles  damage  हो सकती है।

कमर के आस पास मांसपेशियां जितनी कमज़ोर होती हैं, पीठ और कमर में दर्द ( kamar dard ) की problem और  Spinal cord injury की समस्या के होने का खतरा भी उतना ही अधिक रहता है।

आदतें जो आपकी रीढ़ की हड्डी के लिए हानिकारक है:-

1. धूम्रपान करना – Smoking Side Effects 

smoking
smoking ke side effect

वैसे तो धूम्रपान अपनेआप में harmful habit है। लेकिन इससे back pain की समस्या भी हो सकती है, क्योंकि cigarettes में मौजूद nicotine रीढ़ की हड्डी के आस-पास के रक्तप्रवाह ( blood flow ) को बाधित कर देता है, जिससे दर्द उभर सकता है।

2. खड़े होकर काम करना – Working while standing

अक्सर हम सभी सुनते रहते है की ज्यादा देर तक बैठना health के लिए harmful होता है। लेकिन हम आपको बता दें कि ज्यादा समय तक खड़े रहना भी health के लिए अच्छा नही होता।

इससे गर्दन, रीढ़ की हड्डी ( read ki haddi ) और कन्धों पर बुरा effect पड़ता है। गलत तरह से ज्यादा देर तक खड़े रहने से spinal cord में भयंकर दर्द हो सकता है।

3. पर्याप्त आराम ना करना – Not getting enough rest

lower back pain reason
lower back pain reason

Generally हम लोग छोटे मोटे दर्द को नजर अंदाज़ कर देते है, लेकिन back में थोडा भी तकलीफ़ या pain होने पर rest बहुत जरूरी है। हालांकि हर बार rest करना थोड़ा मुश्किल है। लेकिन जब भी आपको time मिले आराम ज़रुर करें।

4. कैफीन की आदत – Caffeine Side Effects 

kamar dard ke karan में caffeine भी शामिल है। कॉफी और सोडा में मौजूद कैफीन शरीर की calcium absorb करने की क्षमता को कम कर देता है। जिससे bone density पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। इसलिए  खाने में पर्याप्त मात्रा में calcium लें या caffeine का सेवन कम कर दें।


ये भी पढ़ें-

-10 Natural Weight Loss Tips for Hindi –मोटापा कम कैसे करें ( Dr. Asmani Bhave )
 
– गुर्दे की बीमारी ( kidney problems ) – Symptoms and Home Remedies for Kidney Infections ( हिंदी में )

5. गलत खानपान की आदतें  – Bad Eating Habits

कुछ गलत खानपान की आदतें भी खतरनाक होती हैं, जो kamar dard ke karan बनती है, जैसे कि अधिक मिर्च -मसाले (spicy food)और oily food, चट-पटा खाना, फ्रिज में रखने वाले खाने से, ice-cream ,अधिक ठंडा पीना, ज़्यादा बीज वाले सब्जी और फल जैसे परवल, बैगन, अमरूद, काचरी आदि लेने से कमर दर्द की problem होती है।

6 . सामान उठाते समय रीढ़ की हड्डी को मोड़ लेना- Turning the spinal cord while carrying luggage

अक्सर हम लोग ऐसी mistakes करते है, Luggage उठाते समय अपने पैरों को मोड़ने की बजाय हम अपनी पीठ को मोड़ लेते है। अक्सर ऐसा करने से spinal cord पर बुरा effect होता है और kamar dard ke karan बनता है।

इसलिए जब भी luggage उठाना हो आप अपने घुटनों को मोड़कर आगे झुकें और सामान उठाएं। और luggage रखते समय भी घुटने मोड़ें, न की पीठ।

7 . व्यायाम का तरीका – Method of Exercise

kamar dard ki exercise
kamar dard ki exercise

व्यायाम की कमी भी kamar dard ke karan हो सकते हैं।  Exercise करने के कई फ़ायदे है। हम आपको बताना चाहेंगे कि weight lifting करने से spinal cord की density बढ़ती है, और रीढ़ की हड्डी मज़बूत होती है।

लेकिन कुछ ख़ास व्यायाम जैसे gym में cycling करने से पीठ व गर्दन पर बुरा असर होता है, क्योंकि अक्सर gym में cycling के दौरान हमे पीठ को आगे की और झुकायें रखना पड़ता है। ऐसा लगातार करने से spinal cord को नुक्सान हो सकता है। अत: ऐसा करने से बचें।

8 . गलत साइज़ के जूते पहनना – Wearing the wrong size shoes

Wrong size के जूते पहनने से भी पीठ दर्द की problem हो सकती है। इस लिए अपने पैरों पर कम दबाव डालने के लिए अच्छी quality के ही जूते पहने।

Rachelle Buchbinder (WebMD) के अनुसार “कम पीठ दर्द के अधिकांश मामले सरल शारीरिक और मनोवैज्ञानिक उपचारों के हैं जो लोगों को active रखते हैं और उन्हें काम पर रहने के लिए सक्षम करते हैं ” 

दोस्तों, यह थे low back pain reason और upper back pain reason अगर आपको ये article अच्छा लगा है, तो इस को आप अपने Friends के साथ share ज़रुर करें। और comment करके अपने विचार व्यक्त करें। 

NOTE-  lifewingz.com का उद्देश्य आप सबको ज़रूरी जानकारी प्रदान करना है, लेकिन आप किसी चिकित्सक से सलाह ज़रूर लें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.