Kidney Ki Bimari – kidney infection symptoms and home remedies for kidney infections ( हिंदी में )

Kidney Ki Bimari

Kidney ki bimari से परेशान व्यक्ति kidney khrab hone ke lakshan ( symptoms to kidney infection ) को महसूस करता है और वह पहले घरेलु नुस्खे ( home remedies for kidney infections ) अपनाता है, लेकिन kidney pain फिर भी होता हैं। इसलिए इस article में आपको almost सब पढने को मिलेगा जैसे कि kidney khrab hone ke lakshan, home remedies of kidney infection और kidney ka ilaaj ( kidney treatment ) आदि।

विश्व में 19.5 करोड़ महिलाएं  गुर्दे की बीमारीkidney problems ) से पीड़ित है। India में भी kidney patient की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है। हर साल 2 लाख लोगों को kidney disease हो जाती है। शुरुआती stage में इस बीमारी को ( kidney infection symptoms )पकड़ पाना मुश्किल है, क्योंकि दोनों किडनी 60% खराब होने के बाद ही patient को इसका पता चल पाता है।

किडनी के खराब होने के कारण ही रक्त में creatinine का स्तर बढ़ना शुरू होता है। kidney ka ilaaj शुरू से ही कर लेना चाहिए जब kidney problems symptoms दिखने लगे। 

Kidney bean आकार के होते हैं जो पेट के दाएं और बाएं भाग में पीछे की तरफ स्थित होते हैं। Body में पानी के स्तर को संतुलित करने में गुर्दों की भूमिका अहम होती है। एक sentence में कहा जाए, तो kidneys हमारे शरीर के blood को साफ कर के अतिरिक्त पानी और लवन को बाहर निकालने का काम करते हैं। 

यदि किसी को high blood pressure, diabetes  या family में पहले किसी को किडनी संबंधी बीमारी हैं, तो उस उस व्यक्ति को kidney ki bimari संबंधी रोग होने की संभावनाएं ज्यादा हैं। kidney ki bimari  में कई रोग मोजूद होते हैं, जैसे कि किडनी की पथरी ( kidney stone ), किडनी की सूजन ( kidney me sujan ), गुर्दे का कैंसर ( kidney cancer ), Polycystic kidney disease और urine infection आदि।

गुर्दे की बीमारी का कारण –  Kidney ki bimari hone ke karan

1) कम मात्रा में पानी पीना —   

जैसे की आप जानते ही होंगे की पानी पीने के कई फायदे ( benefits of drinking water ) हैं। और पानी की कमी के कारण Kidney ki bimari के साथ साथ और भी कई नुक्सान होते है।

2) नमक व शक्कर की अधिकता वाला भोजन करना — 

ज्यादा नमक और मीठा खाने से भी kidney ki bimari हो सकती है।

3) अधिक Fast food खाना– 

आजकल लोग healthy diet की तरफ कम ध्यान देते हैं और fast food को ज्यादा पसंद करते हैं। ये भी गुर्दे के रोग का कारण हो सकता है।

4) Pain killer medicines का अधिक सेवन करना–

Pain killer medicines का उपयोग दर्द से रहत पाने के लिए किया जाता है, लेकिन कुछ लोग इसको ज्यादा ही लेने लगते हैं , जिसका side effect किडनी पर पड़ता है।

5) मांस ( Non veg ) का अधिक सेवन करना– 

अधिक मात्र में non veg का सेवन करने का गुर्दे पर बुरा असर पड़ता हैं क्यूंकि इसमें प्रोटीन ज्यादा मात्रा में पाया जाता हैं। ज़रूरत से ज्यादा प्रोटीन को पचाने में किडनी पर जोर पड़ता है।

6) Side Effects of Smoking and Drinking — 

Centers for Disease Control and Prevention के अनुसार, धूम्रपान और शराब शरीर के लगभग हर अंग को नुकसान पहुँचाता है। इसलिए, यह सीखना आश्चर्यजनक नहीं है कि धूम्रपान भी खतरनाक किडनी रोग को बढ़ने में मदद करता हैं।
Smoking से blood pressure और हृदय गति बढती है और किडनी में blood flow को कम करता है जो कई खतरे की बात है। धुम्रपान गुर्दे में खून की नाड़ियो को सिकुड़ता हैं। अधिक शराब पीने से किडनी खराब होने लगती है।

7) Side Effects of Cold Drinks on Kidney—  

एक नए अध्ययन से पता चला है कि सामान्य गुर्दा वाले व्यक्तियों को भी खतरा है, अगर वे बहुत अधिक ( cold drinks ) सोडा पीते हैं। soda का अधिक मात्र में सेवन करने से kidney ki bimari के साथ साथ heart और high blood pressure का रोग हो सकता है।

8) नींद में कमी और exercise ना करना– 

kidney khrab hone ka kaaran नींद पूरी न होना और exercise की कमी भी है। Dr. McMullan के अनुसार sleep-wake cycle किडनी की कार्यप्रणाली को बरकरार रखता है। 

और कम शारीरिक काम करने वालों को Kidney ki bimari होने के ज्यादा chances होते है।

गुर्दे की बीमारी के लक्षण – Symptoms of kidney disease

-लगातार vomiting आना

-भूख ना लगना

-Tired और weak महसूस होना

-पेशाब की मात्रा कम होना

Itching problem होना

-नींद ना आना

-Muscle stretch होना

गुर्दे की बीमारी का इलाज  – Home Remedies for Kidney Infections

Chronic Kidney Disease

1) पानी ज्यादा पीएं – Drink lots of water-

अधिक पानी पीना आपके शरीर से toxins को बाहर निकालने का सबसे अच्छा तरीका है। उचित पानी का सेवन किडनी के सुचारु संचालन को सुनिश्चित करता है। पानी की कमी से भी kidney stones हो सकता है, आपको kidneys healthy रखने के लिए अधिक पानी पीना चाहिए।

2) दर्द निवारक दवाइयों का इस्तेमाल ना करें – Avoid painkiller medicine-

दर्द निवारक medicine आपको pain से तुरंत राहत दिलाती है। लेकिन बिना doctor’s की सलाह के दुकान से painkiller medicine खरीदकर उनका सेवन kidneys के लिए dangerous हो सकता है। painkillers किडनी के रक्त प्रभाव को कम करते हैं। पेनकिलर का regular सेवन करने से वे किडनी को नुकसान पहुंचा कर पूरी तरह खराब भी कर सकती है।

3) धूम्रपान और तंबाकू के इस्तेमाल से बचें  – Avoid smoking and tobacco use-

धूम्रपान एवं तम्बाकू के सेवन से कई serious problems तो होती ही हैं, साथ ही धूम्रपान से किडनी में blood circulation कम हो जाता है, और किडनी में blood कम जाने से उसकी कार्य-क्षमता घट जाती है।

4) अधिक विटामिन लें  – Get some vitamins-

विटामिन  वैसे तो पूरे body के लिए जरूरी होते हैं। लेकिन कुछ ऐसे  vitamin है, जो kidney को स्वस्थ रखने में काफी उपयोगी होते हैं। जैसे कि vitamin d किडनी रोग के लक्षणों को कम करने में help करता है। उसी तरह vitamin c गुर्दे को किसी भी तरह के harm से बचाने में उपयोगी है और vitamin b6 किडनी स्टोन की Possibilities को कम करता है।


इसे भी पढ़ें-

-10 Natural Weight Loss Tips for Hindi –मोटापा कम कैसे करें ( Dr. Asmani Bhave )
-Top Motivational Story in Hindi in 2020 – Women Entrepreneurs of India    ( हिंदी में )

5) मुनक्का का पानी पीएं – Drink raisin water-

आप को night time में सोने से पहले कुछ मुनक्का को पानी में भिगोने के लिए रखना चाहिए तथा morning के समय में मुनक्का पानी से निकाल कर, इस पानी को पीना चाहिए। ऐसा कुछ दिनों तक लगातार करने से kidney disease जल्दी ही ठीक हो जाता है।

6) नमक या चीनी का अधिक सेवन न करें – Reduce Salt and sugar-

नमक या चीनी का अधिक सेवन आपके गुर्दे के लिए harmful है। ज्यादा नमक खाने से body में sodium की मात्रा अधिक हो जाती है और आपका blood pressure बढ़ जाता है। जिसकी वजह से kidney पर ज्यादा जोर पड़ता है और समस्याएं होने लगती हैं। इसलिए नमक या चीनी का अनावश्यक रूप से अधिक मात्रा में सेवन गुर्दों की क्रिया शीलता को बढ़ाकर उनकी शक्ति को कम कर देता है।

7) डाइट कैसी हो – Healthy Diet Plan-

गाजर, तुरई, टिंडे, ककड़ी, अंगूर, तरबूज, अनानास, नारियल पानी, गन्ने का रस व सेब खाएं लेकिन diabetes है तो गन्ने का रस न पिएं। इन चीजों से urine  खुलकर आता है। मौसमी, संतरा, किन्नू, कीवी, खरबूजा, आंवला और पपीते खा सकते हैं।  

8) पर्याप्त नींद लें – Get enough sleep-

अपनी body को healthy बनाए रखने के लिए उचित नींद आवश्यक है जब हम सोते हैं तो हमारी kidney के tissues का नव-निर्माण होता हैं। अपर्याप्त नींद kidney system को बिगाड़ सकती है इसलिए हमें पूरी और अच्छी नींद की बेहद ज़रूरत होती हैं। अगर हम पूरी नींद नहीं लेते हैं या सही से नहीं सोते हैं तो इस किर्या में भी बाधा आती है और किडनी पर pressure बढ़ जाता है। ऐसे में urinary problems भी होने लगती हैं। इसलिए आपके लिए पर्याप्त नींद लेना बेहद ज़रूरी होता है।  

NOTE-  lifewingz.com का उद्देश्य आप सबको ज़रूरी जानकारी प्रदान करना है, लेकिन आप किसी चिकित्सक से सलाह ज़रूर लें।

दोस्तों अगर आपको ये article अच्छा लगा है, तो इस को आप अपने Friends के साथ share जरुर करें। और comment करके अपने विचार दें

Leave a Reply

Your email address will not be published.