Home remedies for stomach pain in hindi – पेट दर्द का घरेलू उपचार

pet dard ka gharelu upchar

आज का हमारा आर्टिकल है “पेट दर्द का घरेलू उपचार” दोस्तों, हम सबको पेट दर्द होता है और बचपन से ही हमने कभी पेट दर्द और गैस की दवा नही ली। क्योंकि माँ के घरेलू नुस्खे ही हमारी पेट दर्द दूर कर देते थे। आज मैं आप के साथ पेट दर्द का देसी उपचार लेकर आई हूँ इसमे आप पेट दर्द के ayurvedic upay भी जाने गए।

दोस्तों, पेट दर्द एक आम बीमारी है हम सब को इस बीमारी से गुजरना पड़ता है। पेट दर्द के कई कारण हो सकते है। पेट दर्द बच्चों से लेकर बूढ़े तक किसी को भी हो सकती है।

हमारी घर की रसोई में बहुत सी ऐसे चीजें है जिनका अगर इस्तेमाल किया जाए तो पेट दर्द की बीमारी से बचा जा सकता है। लेकिन उससे पहले मैं आपको बताना चाहती हूँ कि पेट दर्द किन-किन कारणों से होता है।

पेट दर्द होने के कारण ( Reason for stomach pain)

पेट के विभिन्न हिस्सों में दर्द होने के अलग कारण है जैसे कि:-

– पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द गैस्ट्राइटिस, लीवर में खराबी, पित्त में पथरी होने के कारण दर्द होता है।

– पेट के निचले भाग में दर्द एपेन्डिसाइटिस, मूत्राशय में पथरी या संक्रमण के कारण होता है।

महिलाओं में पेट के निचले हिस्से में दर्द होने के कई कारण हो सकते हैं जैसे गर्भाशय में किसी तरह की खराबी, फाइब्रायड, एंड्रीयोमेट्रीयोसिस, माहवारी या कोई अन्य बीमारी।

– पेट के एक तरफ दर्द का कारण गुर्दे में पथरी या गुर्दे की अन्य कोई बीमारी हो सकती है।

– बच्चो में पेट दर्द पेट में कीडे होने पर होता है।

– यह आवश्यक नहीं है कि पेट दर्द इन्हीं कारण से होता है पेट दर्द ज्यादा भोजन करने से, आंतों में सूजन होने से, कब्ज होने से, बाहर का खाना जैसे पिज्जा, बर्गर आदि ज्यादा खाने से, अधिक मिर्च-मसाला वाला खाना खाने से भी हो सकता है।

अब हम बात करते है कि आप किस तरह से अपने पेट दर्द को दूर कर सकते है। आपकी रसोई में ऐसी कौन-कौन सी चीज है जिन्हें प्रयोग कर के आप पेट दर्द से मुक्ति पा सकते है।


अगर आप हो डायबिटीज से परेशान तो अपनाए यह उपाय :- डायबिटीज को जड़ से ख़त्म कर देंगे यह 7 घरेलु उपाय- 7 Home Remedies for Diabetes


पेट दर्द होने के लक्षण ( Symptoms of stomach pain)

– सीने में जलन।

– पेट में दर्द होना।

– पेट में गुड़गुड़ाहट होना और ज्यादा खट्टी डकार आना।

– गैस बनना।

– जी मिचलाना।

– पेट फूलना।

– डकार आना।

– तनाव होना।

पेट दर्द का घरेलू उपचार – Home remedies for stomach pain

1. अजवायन दूर करे पेट का दर्द :-

अजवाइन में औषधि गुण पाए जाते हैं। अजवाइन का सेवन करने से आप अपने पेट के दर्द को दूर कर सकते हैं। इसके लिए आप को गुनगुने पानी में एक छोटी चम्मच अजवाइन मिलाकर पीना है या फिर आप एक छोटी चम्मच अजवाइन खाकर ऊपर से गुनगुना पानी भी पी सकते है। आप अजवाइन का सेवन काले नमक के साथ भी कर सकते हैं।

2. हींग करें पेट का दर्द दूर :-

हींग में एंटी-इन्फ्लेमेटरी और एंटी-ऑक्सीडेंट गुण होते है जो आपके पेट दर्द को ठीक करने में सहायता करते है। आप अपने भोजन में हींग का इस्तेमाल कर सकते है आप एक चुटकी हींग को गुनगुने पानी के साथ भी ले सकते है। हींग पेट में गैस और अपच की समस्या नहीं होने देती है।

3. पेट दर्द में जीरा करे लाभ:-

जीरा पाचन क्रिया को मजबूत करता है। जीरा पेट में होने वाले दर्द को दूर करने में सहायक है। 2-3 ग्राम जीरा को तवे पर भून कर पिस ले और अब इस जीरे पाउडर को दिन में दो से तीन बार पानी के साथ सेवन करे या वैसे ही चबाकर खाये शीघ्र लाभ होगा।

4. अदरक और लहसुन का फायदा:-

अदरक और लहसुन प्राकृतिक एंटीबायोटिक माने जाते हैं। अदरक और लहसुन पाचन शक्ति मजबूत बनाते है। लहसुन में एन्टी इंफ्लैमटोरी गुण होते है जो पेट दर्द, दस्त, गैस्ट्रिक अल्सर जैसी बिमारियों से आपको राहत देने में मदद करते है।

आपको अदरक और लहसुन की बराबर मात्रा में पेस्ट बनानी है और खाना पकाते वक्त इस पेस्ट का इस्तेमाल अपने खाने में करना है इससे आपको कब्ज,खट्टे डकार, पेट दर्द और गैस जैसी समस्या नही होगी।

5. टमाटर करे पेट दर्द दूर:-

टमाटर में एंटीऑक्सीडेंट्स,लाइकोपीन, प्रोटीन, विटामिन और वसा होता है। टमाटर पाचन शक्ति मजबूत करता है। पेट के रोगों को दूर करता है टमाटर का सेवन सलाद के रूप में सेंधा नमक तथा काली मिर्च डालकर करने से कब्ज दूर होती है तथा गैस नहीं बनती है।

6. ठंडा दूध ठीक करें एसिडिटी की समस्या:-

जिन लोगों को एसिडिटी की समस्या रहती है उनको आधा गिलास कच्चे दूध में आधा गिलास पानी मिलाकर पीना चाहिए, ठंडा दूध एसिडिटी के लिए पुराना रामबाण उपाय है। यह सीने में जलन को भी दूर करता है।

7. नीम दूर करें पेट के कीड़े :-

नीम की पत्त‍ियों में ऐंटि-बायोटिक गुण होते हैं, जो इन्फेक्शन और कीड़ो को मारने में बहुत सहायक होते है।नीम की पत्त‍ियों को पीसकर इसे शहद के साथ मिलाकर खाने से पेट के कीड़े समाप्त हो जाते हैं।

दोस्तों, यह थे पेट दर्द के घरेलू उपाए अब हम बात करते है पेट दर्द के ayurvedic upay के बारे में।


देसी घी के फायदे :- क्या आप जानते है देसी घी में छुपे हैं, Health Benefits and Beauty Secrets


पेट दर्द के आयुर्वेदिक उपाय :-

– पेट दर्द दूर करने लिए आप जटामांसी, सौंठ, आंवला और काला नमक को बराबर मात्रा में पीस लें और एक-एक चम्मच दिन में तीन बार लें, इस से आपको पेट दर्द से राहत जरूर मिलेगी।

– जायफल का दो चुटकी चूर्ण गर्म पानी के साथ सेवन करने से भी पेट दर्द में आराम पहुँचता है।

– पत्थरचट्टा पत्तों के एक चम्मच रस में सौंठ का चूर्ण मिलाकर खाने से पेट दर्द से राहत मिलती है।

– दालचीनी और सफ़ेद मुसली बराबर मात्रा में मिलाकर पीस लें, अब इस चूर्ण को पानी के साथ सुबह-शाम एक-एक चम्मच सेवन करने से आपको जल्दी ही आराम मिलेगा।

दोस्तों यह थे आयुर्वेदिक उपचार अब हम बात करते है। पेट दर्द की आयुर्वेदिक दवा जिससे आप आसानी से अपनी पेट दर्द को दूर कर सकते है। यह पेट दर्द की दवा आपको आसानी से मार्किट में मिल जाएगी।

पेट दर्द की आयुर्वेदिक दवा :-

1. दशमूलारिष्ट टॉनिक:-

दशमूलारिष्ट टॉनिक पेट की कई समस्याओं को दूर करने में सहायता करता है 2 चम्मच दवा 4 चम्मच पानी को एक साथ मिलाकर सुबह-शाम नाश्ते और रात के खाने के बाद लेना चाहिए। यह टॉनिक आपको आसानी से हर आयुर्वेदिक स्टोर पर मिल जाएगा।

2. पुदीन हारा:-

पुदीन हारा पुदीना पर आधारित होता है जो पेट की गैस, दर्द, अपच आदि को ठीक करने के लिए बहुत ही प्रसिद्ध है, यह डाबर इंडिया की बहुत ही प्रसिद्ध आयुर्वेदिक दवा है और गैस और अपच के कारण पेट दर्द के लिए बहुत प्रभावी है। यह दवा तरल और मोती रूप में उपलब्ध है और यह आसानी से आपको मेडिकल स्टोर से मिल जाएगी।

पेट दर्द का मंत्र:-

ॐ नमो इट्ठी मिट्ठी भस्म कुरु-कुरु स्वाहा|

इस मंत्र को 12500 जप करके सिद्ध कर लें। फिर 21 बार पानी को अभिमंत्रित कर रोगी को पिलाएं तो पेट का दर्द दूर होगा।

उपर्युक्त घरेलू उपचार और ayurvedic upay पेट दर्द और गैस्ट्रिक परेशानियों के अन्य लक्षणों से तुरंत राहत प्रदान कर सकते हैं। हालांकि, अगर ये सुझाव राहत देने में विफल होते हैं, तो तुरंत डॉक्टर की सहायता लेनी चाहिए।

By:- Meenakshi

Image credit:- freepik, canva

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.