Poem For Women – Hathras kand की उस बच्ची की पुकार – मुझे घर जाने दो

poem for women

दोस्तों, यह poem for women उन लड़कियों की कहानी पर निभर्र है जिनको कुछ लोग अपनी जिस्म की प्यास बुझाने के बाद मार देते है। हाल ही में आप सब ने Hathras gang rape की news सुनी होगी।

14 September 2020 को, भारत के उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में एक 19 वर्षीय दलित महिला के साथ कथित तौर पर चार उच्च जाति के लोगों द्वारा सामूहिक बलात्कार किया गया था। दो सप्ताह तक अपने जीवन की लड़ाई लड़ने के बाद, दिल्ली के एक अस्पताल में उसकी मृत्यु हो गई।

आज की हमारी यह poems on women हाथरस जिले की उस बच्ची को समर्पित है जिसे अपने घर से भी वंचित होना पढ़ा।

 

बेखौफ हो काम पर निकली थी

मुझे क्या पता था

ये आखिरी काम होगा मेरा,

 

उन्होंने ना ही मेरी रूह को नोचा

मेरे अस्तित्व को भी तार-तार कर दिया

मुझे घसीटा

मुझे रोंदा

मेरे जिस्म के हर अंग को

उन्होंने नोचा है,

 

खासिट कर मुझे, मेरा मान उन्होंने तोड़ा है

दलित हूँ इसलिए ये सब हुआ है

नहीं नारी हूँ इसलिए हुआ है

खेलने का एक खिलौना हूं मैं क्या,

 

मैं तो नहीं रहना चाहती हूँ इस दल-दल में

आज मुझे नोचा है

कल मेरी रूह को नोचेंगे

और ये समाज चुप खड़ा देखेंगा

मेरी चिखे सुन के भी अनसुना ये करेगा,

 

मां की गोदी में सोने का जी करता है

एक आखरी बार तो मां गोदी मै सुला ही लेगी

नहीं इस जात-पात ने मुझसे वो आखिरी बार

माँ की गोद भी छीन ली

मुझ से मेरा आंगन छीन लिया,

 

मेरे घर मुझे जाने दो

एक आखिरी बार झलक मुझे अपने परिवार को दिखलाने दो

मुझे एक बार तो अपनी माँ के स्पर्श को महसूस करने दो

पापा की गुड़िया हूँ उन्हें भी एक बार तो मुंह मेरा देखने दो

 

भाई की कलाई पर एक आखिरी बार तो राखी बांध ने दो

मुझे ऐसे ना अग्नि को सोपो

मुझे मेरे घर जाने दो, मुझे मेरे घर जाने दो!!

 


ये भी पढ़ें:-

1) खिलौनेवाला ( Khilaunewala ) हिंदी कविता

2) रामधारी सिंह “दिनकर” की प्रसिद्ध कविता “कृष्ण की चेतावनी”

3) चलो सब इंसान बन जाएँ। Hindi mein kavita


 

by Shubhi Gupta ( शुभी गुप्ता )
Story and Poem Writer

 

जैसा कि, हम जानते हैं कि महिलाएं हमारे देश का गौरव हैं। महिला वह है जो किसी व्यक्ति के जीवन को बदल सकती है, ( poems on woman empowerment ) महिला वह है जो अपने बारे में नहीं सोचती, वह अपने परिवार के बारे में और अपने बच्चों के बारे में सोचती है।

लेकिन आज भी भारत में बलात्कार, यौन उत्पीड़न, बाल विवाह और मानसिक उत्पीड़न कुछ ऐसी समस्याएं हैं जिनका सामना महिला को करना पड़ता है।

हर पुरुष की जिम्मेदारी है कि वह महिलाओं को बचाएं। women’s safety अब तक की सबसे अच्छी सेफ्टी है, अगर आप अपने जीवन में एक महिला की सुरक्षा करते हैं, तो आपने अपने जीवन में सबसे अच्छा काम किया है, महिलाएं हर किसी के लिए बहुत आवश्यक हैं।

यह respect a woman poem in hindi आपको कैसे लगी हमे जरूर बताएं poems about woman से हम सबको बताना चाहते है कि अगर आज उस बेटी के साथ गलत हुआ है, कल को हमारी बेटी के साथ भी कुछ गलत हो सकता है।

 

Image credit:- canva

 

 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.