Skip to content

Santan Prapti ke Jyotish Upay: संतान सुख पाने के लिए करें ये अचूक ज्योतिष उपाय

Santan Prapti ke Jyotish Upay


शादी के बाद हर कपल का सपना होता है कि उनके बच्चे की किलकारियां जल्द ही उनके आंगन में गूंजें। कुछ महिलाओं का मां बनने का ये सपना किसी वजह से पूरा नहीं हो पाता है। कई महिलाएं मां बनने के लिए तरह-तरह के प्रयास करती हैं, लेकिन फिर भी सफल नहीं हो पाती हैं। वे संतान सुख से वंचित रह जाती हैं और यही उनके लिए मानसिक तनाव का मुख्य कारण बन जाता है। लेकिन आप निराश न हों, आज हम आपको कुछ अचूक उपाय बताएंगे जिससे आप जल्दी गर्भवती हो सकती हैं।

किसी ने ठीक ही कहा है कि ‘दुनिया की सारी खुशियाँ एक तरफ हैं और माँ बनने का सुख एक तरफ।’ कुछ लोग बहुत भाग्यशाली होते हैं, जिने माँ बनने का सुख काफी आसानी से मिल जाता है।

लेकिन कुछ ऐसे भी होते हैं जिन्हें बहुत कोशिश करने के बाद भी माँ बनने का सुख नहीं मिलता है। तो ऐसे लोग इस लेख में लिखे आसान से उपायों को अपनाकर बड़ी ही आसानी से संतान की प्राप्ति कर सकते हैं। लेकिन उपायों को बहुत सावधानी से और पूरी श्रद्धा के साथ करना बहुत जरूरी है।

1. पीपल के वृक्ष पर जल चढ़ाएं:-
भारत में पीपल के पेड़ का बहुत महत्व है क्योंकि यह धार्मिक मान्यताओं से जुड़ा हुआ है। मान्यता है कि प्रतिदिन पीपल के पेड़ की जड़ में जल चढ़ाने से संतान सुख की प्राप्ति होती है। शाम के समय पेड़ के नीचे दीपक जलाएं और अपनी मनोकामना पूर्ति के लिए प्रार्थना करें।

2. गोपाल सहस्त्रनाम का पाठ करें:-
जो स्त्री गर्भधारण नहीं कर पा रही हो, उसे नित्य स्नान करके संतान प्राप्ति का आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए गोपाल सहस्त्रनाम का पाठ करना चाहिए। इससे उसका भाग्योदय होगा और उसे संतान प्राप्ति का सौभाग्य प्राप्त होगा।

3. मदार की जड़ बांधें:-
यदि कोई स्त्री बहुत प्रयत्न करने पर भी गर्भधारण न कर सके तो शुक्रवार के दिन मदार (प्रजनन क्षमता बढ़ाने में सक्षम माना जाने वाला पौधा) की जड़ को उखाड़कर कमर में बांध ले। माना जाता है कि ऐसा करने से उसे बच्चा होने का सौभाग्य प्राप्त होगा।

4. गाय की सेवा करें:-
यदि संतान सुख चाहते हैं तो आपको गाय और उसके बछड़े की सेवा करनी चाहिए। अपने भोजन का आधा हिस्सा गाय को खिलाएं और उसकी पूजा करें, जल्द ही शुभ समाचार मिलेगा।

5. गुरुवार को उपवास करें:-
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार बृहस्पति एक ऐसा ग्रह है जो आपके वैवाहिक जीवन और संतान सुख का कारक माना जाता है। कई बार आपकी कुंडली में बृहस्पति की कमजोर स्थिति आपके संतान सुख में बाधा बन सकती है। इसलिए आपको गुरुवार के दिन व्रत करना चाहिए और पीली वस्तु जैसे गुड़ या शहद का दान पुण्य करना चाहिए। गुरुवार के दिन पूजा करते समय भी आपको पीले रंग के वस्त्र धारण करने चाहिए और पीला भोजन ही खाना चाहिए।

6. स्कन्द माता की पूजा:-
स्कंद माता देवी दुर्गा के नौ रूपों में से एक हैं। इन्हें संतान देने वाली मां भी कहा जाता है। भगवान कार्तिक इस रूप में उनकी गोद में विराजमान हैं। प्रतिदिन स्कंद माता की पूजा करने से आपको उनका आशीर्वाद प्राप्त होगा और आप अपने जीवन में सफलता प्राप्त करेंगे। आपको षष्ठी के दिन स्कंद माता सहित कार्तिक जी की पूजा करनी चाहिए ताकि आपके रास्ते में आने वाली सभी बाधाएं दूर हो जाएं। और आपको संतान की प्राप्ति हो जाएं। 

गर्भपात रोकने के कई तरीके हैं, कुछ आसान और कुछ ज्यादा मुश्किल। कुछ तरीके कुछ लोगों के लिए दूसरों की तुलना में बेहतर काम करते हैं, लेकिन अगर सावधानी से और लगातार उपयोग किया जाए तो वे सभी प्रभावी हो सकते हैं।

1. यदि किसी स्त्री का गर्भधारण नहीं होता है या गर्भ में ही उसके बच्चे की मृत्यु हो जाती है तो वह दंपति मंगलवार के दिन हनुमान मंदिर में 21 पान के पत्ते लेकर जाएं। उन पर सिंदूर से राम लिखें और फिर इन पत्तों को भगवान हनुमान के चरणों में रख दें और विधिपूर्वक उनकी पूजा करें। पत्तों को उठाकर लाल कपड़े में बांध दें। फिर इसे बहते पानी में प्रवाहित करें अथवा पीपल के वृक्ष में चढा दें। 

2. यदि किसी स्त्री का बार-बार गर्भपात होता है तो शुक्रवार के दिन गर्भवती स्त्री की कमर में गोमती चक्र बांध दें। इससे उसे गर्भपात से बचाने में मदद मिलेगी।

3. पलाश के पत्ते गर्भधारण के लिए एक बहुमूल्य निवारक हैं। गर्भावस्था के पहले महीने में एक पत्ता, दूसरे महीने में दो और इसी तरह प्रत्येक महीने के हिसाब से उतने पत्ते दूध में मिलाकर सेवन करें। जो गर्भवती महिलाएं इस शेड्यूल के अनुसार पलाश के पत्तों का सेवन करती हैं उन्हें असुरक्षित गर्भधारण का खतरा बहुत कम होता है।

4. जिन महिलाओं को गर्भावस्था के कुछ समय बाद रक्तस्राव शुरू हो जाता है उनमें गर्भपात का खतरा अधिक होता है। उस समय एक चम्मच पिसी हुई फिटकरी को कच्चे दूध और पानी में मिलाकर सेवन करने से गर्भपात रुक जाता है।

5. बार-बार होने वाले गर्भपात की संख्या को कम करने के लिए गर्भवती महिलाओं को धतूरे की जड़ को एक सूती धागें में बांधकर पेट के नीचे धारण करना चाहिए।

6. यदि किसी स्त्री को संतान न हो तो वह सौभाग्य प्राप्ति के लिए दूसरी स्त्री के ज्येष्ठ पुत्र की गर्भनाल को पीसकर पुराने गुड़ के साथ सेवन कर सकती है या सोने का ताबीज बनाकर अपनी बायीं भुजा में सौभाग्य के लिए धारण कर सकती है। 

वैदिक शास्त्रों में मंत्र, साधना, कर्मकांड, व्रत और हवन ये सभी संतान की प्राप्ति के लिए महत्वपूर्ण साधन माने जाते हैं। ऐसा माना जाता है कि यदि मंत्र का जाप व्यवस्थित तरीके से किया जाए तो व्यक्ति हर काम में सफल होता है और साथ ही खुशहाल, स्वस्थ संतान भी प्राप्त करता है। साथ ही, बच्चे के जीवन में आने वाली समस्याओं को भी दूर किया जा सकता है।

1. यदि आप संतान प्राप्ति की इच्छा रखते हैं तो आपको प्रतिदिन स्नान करने के बाद गणपति को बिल्व फल अर्पित करना चाहिए। इस मंत्र का प्रतिदिन 11 माला जप करने से आपको गर्भवती होने में मदद मिलेगी।

मंत्र विधि:- कम से कम 45 दिनों तक नियमित रूप से इस मंत्र का जाप करने से फल प्राप्ति होती है। ध्यान रहे कि इस साधना में बाधा नहीं आनी चाहिए। सच्चे मन से लगातार मंत्र जाप करने से फल अवश्य मिलता है।

2. यदि किसी स्त्री-पुरुष की कुंडली में निःसंतानता की स्थिति बन रही हो तो उन्हें संतान बाधा दूर करने के लिए निम्न उपाय तुरंत प्रारंभ कर देना चाहिए।

मंत्र विधि:- हर सुबह तुलसी की माला से 5 माला जप करने से आपके मन और आत्मा को शुद्ध करने में मदद मिलेगी, भगवान कृष्ण के चित्र के सामने बैठकर पूजा में स्वयं को समर्पित कर दें। इसके बाद प्रसाद के रूप में लड्डू का भोग लगाएं।


दोस्तों, इस पोस्ट में हमने संतान प्राप्ति के कारगर उपाय (Santan Prapti ke Jyotish Upay) के बारे में बताया। अगर आपको यह पोस्ट पसंद आई हो तो कृपया कमेंट करके हमें बताएं। यदि आपके पास इस पोस्ट के बारे में कोई प्रश्न या सुझाव है, तो कृपया नीचे टिप्पणी में हमें बताएं और इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूलें।

धन्यवाद!

Image Credit:- Canva

Author (लेखक)

  • Mrs. Minakshi Verma

    मैं, मिनाक्षी वर्मा, पेशे से हिंदी ब्लॉगर हूँ और इस क्षेत्र में मुझे काफी अनुभव हो चुका है। मैं  डाइट-फिटनेस, धार्मिक कथा व्रत, त्यौहार, नारी शक्ति आदि पर लिखती हूँ। इसके इलावा फूड, किड्स बुक्स, और महिलाओं के फैशन के बारे में लिखना मेरे पसंदीदा विषय है।

1 thought on “Santan Prapti ke Jyotish Upay: संतान सुख पाने के लिए करें ये अचूक ज्योतिष उपाय”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *