दोस्तों, आज हम लेकर आए है, बारिश पर कविता (rain poem in hindi)। यह hindi poem on nature पर लिखी गई एक खूबसूरत कविता है। यह short poem in hindi जोकि बारिश पर लिखी गई है यह कविता बारिश के खुबसूरत पल को याद दिलाती है बारिश के बाद का मौसम कितना सुहाना है, बारिश के आने से प्रकृति रानी भी खिल जाती है।

 

उमड़ घुमड़ कर बादल आए,
देखो! धरती हुई दीवानी।

सन सन सन सन हवा चली,
छम छम छम छम बरसा पानी।

पेड़ सारे नहा लिए हैं,
फूलों पर आ गई रवानी।

 चहक चहक कर पक्षी गाएं,
बोल रहे हैं मीठी वाणी।

 गिलहरी फुदके इधर उधर,
तितली कर रही मनमानी।

मन मचल मचल है जाए,
खिल गई है प्रकृति रानी। 

 


ये कविता भी पढ़ें:-

1. प्रेम का एक नाम राधाकृष्ण

2. चेहरे पर चेहरा लगाए घूम रहा है आदमी


आपको यह kavita in hindi कैसी लगी हमे comment करके जरूर बताए। ऐसी ही और short poem in hindi, nature poem in hindi पढ़ने के लिए lifewingz को follow जरूर करें।

By:- Minaxi kundu
Image credit:- Canva