Relationship Advice for Women – ससुराल में कैसे एडजस्ट करें?

relationship advice for women

Relationship advice for women:- शादी के बाद ससुराल में खुद को एडजस्‍ट करना हर महिला के लिए एक बहुत बड़ी चुनौती होती है। ऐसे में हर लड़की के मन में ससुराल में एडजस्ट कैसे करें? कैसे अपने ससुराल वालों को खुश रखे ? ऐसे प्रश्न उत्पन्न होता है। इस लिए आज के इस आर्टिकल में हम relationship tips लाये है। sasural walo ka dil kaise jeete यह सब इस आर्टिकल में बताया है।

 

किसी भी लड़की के जीवन में शादी का डिसीजन सबसे इंपोर्टेंट होता है। भारतीय परिवारों में तो लड़कियों को बचपन से ही मेंटली प्रिपेयर कर दिया जाता है कि पराए घर जाना है। एडजस्टमेंट करना सिखाया जाता है। फिर भी शादी का समय नजदीक आते-आते लड़कियों में अपने ससुराल व पति को लेकर तनाव हो ही जाता है, हो भी क्यों ना! शादी के बाद सब कुछ बदल जो जाता है।

अब बात आती है ससुराल में कैसे एडजस्ट करें:-

वैसे तो जीवन के हर क्षेत्र में हर किसी को एडजस्टमेंट करनी ही पड़ती है यह बात तो सभी जानते हैं। लेकिन ससुराल में एडजस्ट करना थोड़ी अलग बात है।

एक पौधे को भी जब उखाड़कर दूसरी जगह पर लगाया जाता है। तो उसे वहां की मिट्टी, हवा, पानी में एडजस्ट होने में टाइम लगता है, तो लड़की के लिए भला कहां इतना आसान होता है एडजस्टमेंट करना, जबकि वह जानती है कि एक नई बहू से कितनी ज्यादा उम्मीदें होती हैं और सब का ध्यान भी उसी की तरफ रहता है।


ये लेख को भी पढ़ें :- आखिर क्यों है शादी-शुदा ज़िंदगी में तनाव?


ससुराल में एडजेस्ट करने के लिए कुछ बड़े काम की बातें:-

1. सबसे पहले अपने आप को नए माहौल के लिए मेंटली प्रिपेयर करें और बिल्कुल भी घबराए नहीं।

2. सभी रस्मों का आनंद उठाएं, क्योंकि ये रस्में जीवन में दोबारा करने का मौका नहीं मिलेगा।

3. नए रिश्तों (देवर,ननद, जेठ, जेठानी, सास, ससुर आदि)को इंजॉय करें।

4. रस्मों में किचन की रस्म अहम होती है इसलिए वही बनाए जो आपको अच्छे से आता है। फर्स्ट इंप्रेशन इज द लास्ट इंप्रेशन।

5. शादी से पहले पूर्वाग्रह से बचें। किसी भी तरह का कोई वहम ना पालें, कि सास ऐसी होती है, ननद ऐसी होती है, वगैरा-वगैरा। इन बातों से एडजस्टमेंट करने में बहुत परेशानी आती है। सब अपना-अपना एक्सपीरियंस बताते हैं जरूरी नहीं कि आपके साथ भी सेम बातें हों।


# ये भी देखें : Bollywood Style Saree Online Shopping

bollywood replica sarees online shopping

bollywood replica sarees online shopping


6. अपने ससुराल को अपना घर समझेगी तो एडजस्टमेंट करने में आसानी होगी।

7. धैर्य रखें, समर्पण की भावना और व्यवहारिकता आपको एडजस्ट होने में हेल्प करेगी।

8. पति व ससुराल के सभी सदस्यों की पसंद ना पसंद, होबीज को धीरे-धीरे समझने की कोशिश करें।

9. एक डायरी में सब के बर्थडे एनिवर्सरीज को लिखें, टाइम पर सब को विश करेंगी तो सब को बहुत अच्छा लगेगा।

10. परिवार में ढलने की कोशिश करें। याद रखें आप को बदलना है, किसी और को बदलने की कोशिश ना करें।

11. हर परिवार के अपने कायदे कानून होते हैं। अपने ससुराल के सभी कायदों को ठीक ढंग से फॉलो करें।

12. कहीं जाने से पहले घर में पूछकर या बताकर जरूर जाएं।

13. हर घर में खाने-पीने का अपना अलग तरीका होता है कुछ भी बनाना ना आए तो हिचकें नहीं, अपनी ननंद, जेठानी या सास से बेझिझक पूछ लें।

14. किसी रिश्तेदार या पड़ोसी की कही गई फालतू बातों में आकर किसी के प्रति दुर्भावना ना पाले, किसी बात का डाउट हो तो घर के सदस्यों से बात करके क्लियर करें।

15. कभी-कभी सही समय पर गलत बात भी पचा ली जाती है और गलत समय पर बोली गई सही बात भी सहन नहीं की जाती इसीलिए उचित समय देखकर ही अपनी बात कहें।

16. ऊंची आवाज में कभी बात ना करें, जो भी कहना है शालीनता से कहें।

17. जब तक आपकी राय ना मांगी जाए किसी भी बात में ना बोलें।

18. कभी भी मायके वालों से अपने ससुराल पक्ष की तुलना नहीं करनी चाहिए, क्योंकि हर घर का रहने सहने का अपना एक अलग तरीका होता है। तुलना करने से एडजस्टमेंट में परेशानी ही होगी।

19. सास-ससुर के डांटने का कभी बुरा ना माने उन्हें अपने मम्मी-पापा के समान समझे।

20. सास तथा पति के साथ संबंध अच्छे रखें बाकी सदस्यों के साथ एडजेस्टमेंट करने में आसानी होगी। इनके साथ आपसी समझ जितनी बढ़िया होगी उतने ही आपके रिश्ते बेहतर होंगे।

21. कभी किसी की कोई बात बुरी लगे तो उसको ज्यादा तवज्जो ना दें, माफ करके आगे बढ़े। उनके लिए भी आप नई है, समय सबको लगता है एक दूसरे को समझने में।


ये लेख पढ़ें:- स्री-पुरुष क्या चाहते हैं प्यार में ?


इतना मुश्किल भी नहीं है एडजस्ट होना:-

धीरे-धीरे सभी सदस्य आपके स्वभाव को और आप उनके स्वभाव को समझ जाएंगी। आपको लगने लगेगा कि आप शुरू से यहीं रह रही हैं। थोड़े से संयम और सूझूबूझ से आप सबकी चहेती बन जाएंगी।

 

कितनी एडजस्टमेंट करनी चाहिए:-

– देखो एडजेस्टमेंट तो करनी है लेकिन कितनी? इतनी भी नहीं कि अपना वजूद ही ना रहे। सबको खुश करने में खुद को भूल जाएं। अपने सभी शौक खत्म कर ले।

– एडजस्टमेंट कीजिए लेकिन अपनी भावनाओं का भी ध्यान रखिए। याद रखिए आप खुद खुश रहेंगी तो सभी आपसे खुश रहेंगे।


# ये भी देखें : Bollywood Style Saree Online Shopping

bollywood replica sarees online shopping

bollywood replica sarees online shopping


By:- मीनाक्षी कुंडू

Image credit:- Unsplash

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.