दोस्तों! आज की हमारी हिंदी कविता ( hindi poem ) “दंगो ने कराई लड़ाई” में कवि ने delhi के Chand Bagh में हुए दंगो ने हिन्दू -मुस्लिम भाईयों में लड़ाई करवा दी! hindu muslim unity

 

 

जब तुझसे दोस्ती कीMen Holding Hands on Apple iOS 13.3

जात पात ना देखी

आज इन दंगो में जब तेरे से मेरा सामना हुआ

तू मेरे ही खून का प्यासा हुआ,

 

ऐसे कैसे दोस्त-दोस्तMen Holding Hands on Apple iOS 13.3का दुश्मन हुआ 

पहले कभी ज़रा  मेरे चोट लगती

सबसे पहले हाथ तेरा आता

और आज पहला डंडा भी तेरा ही उठा,

 

सर से खून भी बहा

मगर आज तेरे माथे पर शिकन भी ना आई,

 

तू मेरी मम्मी को मम्मी कहता

में तेरी अम्मी को अम्मी कहता

फिर आज केसे अलग हुई तेरी धरती ओर मेरी धरती,Sad but Relieved Face on Apple iOS 13.3

 

मैं और तू तो थे जैसे भाई-भाई

इन दंगो ने हमे बना दिया है कसाई

ना तो मै पीछे हटूंगा

ना ही तू,

 

आज है समय आया जब इंसान- इंसान का नहीं

भाई-भाई के खून का प्यासा है हुआ ! Man: Beard on Google Android 10.0Man on Samsung One UI 1.5

 

#दोस्तों ! कविता अगर दिल को छूह जाये, तो शेयर ज़रूर कीजियेगा। ?
# नई जानकारी के लिए Lifewingz Facebook Page को फॉलो करें !

 

क्या आपने ये रोचक लेख पढ़े हैं :-

 

Kabir Das Ke Dohe – सफलता और खुशहाली के सूत्र 2020

असलियत-ए-ज़िन्दगी – Life Poem in Hindi

बाल मजदूरी बोझ है बचपन पर ! Child Labour Poems in Hindi

हाँ जी मैं हूँ अखबार – Poem on Newspaper


 

by Shubhi Gupta ( शुभी गुप्ता )
Story and Poem Writer

 

आज की हमारी poem “ दंगो ने कराई लड़ाई  कैसी लगी? आप अपने comments के माध्यम से हमें बता सकते है! ऐसी ही अन्य Hindi poem, article, motivational story, quotes, thoughts, या inspire poem इत्यादि पढ़ने के लिए हमें follow ज़रूर करें!

धन्यवाद !