Folic Acid in Hindi की जानकारी में दोस्तों, आज आप जाने गए Folic acid के बारे में, फोलिक एसिड क्या होता है? folic acid foods कौन से है, फोलिक एसिड के फायदे, folic acid side effects क्या होते है? वैसे तो फोलिक एसिड के फायदे अनेक हैं, जिनमें से कुछ के बारे में हम आपको नीचे जानकारी दे रहे हैं।   

 

विषय सूची:-

1. फोलिक एसिड क्या है? What is Folic acid? 

2. फोलिक एसिड का प्रयोग कौन सी बीमारियों के उपचार के लिए किया जाता है? – Folic acid is used to treat which diseases?

3. शरीर में फोलिक एसिड की कमी होने के कारण – Causes of Folic Acid Deficiency in Hindi

4. फोलिक एसिड की कमी के लक्षण – Symptoms of Folic Acid Deficiency in Hindi

5. फोलिक एसिड की कमी से कौन सा रोग होता है? – Which disease is caused due to deficiency of folic acid?

6. फोलिक एसिड के लाभ क्या हैं? – What are the benefits of folic acid?

7. फोलिक एसिड कैसे काम करता है – How does folic acid work?

 8. फोलिक एसिड युक्त फल – Folic Acid Fruits in Hindi

9. फोलिक एसिड युक्त खाद्य पदार्थ – Foods Rich in Folic Acid 

10. फोलिक एसिड कब खाना चाहिए? – When should we eat folic acid?

11. फोलिक एसिड के साइड इफेक्ट्स – Side Effects of Folic Acid in Hindi

 

फोलिक एसिड क्या है? What is Folic acid? 

फोलिक एसिडको हिंदी में फोलिक अम्ल कहते हैं। इस को फोलासीन या vitamin B-9 तथा फोलेट के नाम से भी जाना जाता हैं। ये जल-घुल्य विटामिन B-9 का रूप हैं और शरीर के विभिन्न कार्यों के संपादन के लिए आवश्यक है। 

यह हिमोसाइटिन के संश्लेषण से लेकर न्युक्लीटाइड के रिमिथाईलेशन के लिए भी जरूरी है। यह कोशिका वृद्धि और कोशिका निर्माण के दौरान काफी उपयोगी माना जाता है। बच्चों के स्वास्थ्य और रक्त कोशिकाओं के निर्माण के साथ व्यस्को में भी फोलिक एसिड समान रूप से जरूरी है। फोलिक एसिड रक्तहिंता को रोकने में सहायक होता है। इसके साथ ही लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण में बहुत ही अहम भूमिका निभाता है। नवजात शिशु के स्पाइनल कॉर्ड में न्यूरल ट्यूब और मस्तिष्क के विकास में मदद फोलिक एसिड ही करता है।

 

फोलिक एसिड का प्रयोग निम्नलिखित बीमारियों के उपचार के लिए किया जाता है:-

  • मेगालोब्लास्टिक एनीमिया (Megaloblastic Anemia)
  • फोलिक एसिड की कमी (Folic Acid Deficiency)
  • प्रेगनेंसी के दौरान सप्लीमेंटेशन (Supplementation During Pregnancy)

 

शरीर में फोलिक एसिड की कमी होने के कारण – Causes of Folic Acid Deficiency in Hindi

folic acid tablets uses

फोलिक एसिड कम होने के कई कारण हो सकते हैं जैसे कि :-

– शराब का अधिक सेवन

– खाने में पोषक तत्व की कमी

– सब्जी या फलों को ज्यादा पकाकर खाना

– दवाइयों का दुष्प्रभाव

– Fast food का अधिक सेवन करना

चलिए अब जानते है फोलिक एसिड की कमी के लक्षण क्या होते हैं?

 

फोलिक एसिड की कमी के लक्षण – Symptoms of Folic Acid Deficiency in Hindi

folic acid tablet uses in hindi

शरीर में फोलिक एसिड की कमी के कई लक्षण हो सकते है जैसे:-

– वजन कम होना

– कमजोरी होना

– चिड़चिड़ापन

– सफेद बाल

– डायरिया

– सिरदर्द

– सांस लेने में तकलीफ होना

– त्वचा का पीला हो जाना

 

फोलिक एसिड की कमी से कौन सा रोग होता है? – Which disease is caused due to deficiency of folic acid?

फोलिक एसिड की कमी से एनीमिया होता है। गर्भावस्था में Folate-deficiency anemia न्यूरल ट्यूब दोष (neural tube defect) का कारण हो सकता है। यह तब होता है जब मस्तिष्क या रीढ़ की हड्डी सामान्य रूप से विकसित नहीं होती है। इसलिए गर्भवती महिलाओं को पर्याप्त फोलिक एसिड प्राप्त करने की आवश्यकता होती है। भ्रूण की रीढ़ की हड्डी और मस्तिष्क की वृद्धि के लिए विटामिन महत्वपूर्ण है। फोलिक एसिड की कमी से न्यूरल ट्यूब दोष के रूप में जाना जाने वाला गंभीर जन्म दोष हो सकता है।

 

फोलिक एसिड के लाभ क्या हैं? What are the benefits of folic acid?

 

1. दिन-प्रतिदिन अनियंत्रित जीवनशैली की वजह से दिल से संबंधित बीमारियां अधिक बढ़ती जा रही हैं। फोलिक एसिड ऐसे में एक कारगर भूमिका निभाता है। फोलिक एसिड सप्लीमेंट दिल के दौरे के साथ-साथ स्ट्रोक के जोखिम से भी बचाव कर सकता है। 

एक वैज्ञानिक शोध से इस बात का पता चला है, कि फोलिक एसिड हृदय स्वास्थ्य को बरकरार रखने का भी काम करता है। 

2. फोलिक एसिड के लाभकारी प्रभाव कैंसर जैसी घातक बीमारी में भी देखे जा सकते हैं। फोलिक एसिड युक्त खाद्य पदार्थों को डाइट में शामिल करने से ब्रेस्ट कैंसर का खतरा कम किया जा सकता है।

3. किन्तु फोलिक एसिड की ज्यादा जरूरत गर्भवती महिलाओं को होती है। जो नवजात शिशु में होने वाले न्यूरल ट्यूब दोष या जन्म दोष के जोखिम को कम करने का काम करता है। इसमें शिशु के दिमाग और उसकी रीड की हड्डी पर भी असर पड़ता है। इसलिए इस स्थिति में शिशु को बचाने के लिए गर्भवती महिलाओं को फोलिक एसिड लेने की सलाह दी जाती है।

गर्भवती महिलाओं को हर दिन 400 माइक्रोग्राम फोलिक एसिड लेने की सलाह दी जाती है। गर्भावस्था में फोलिक एसिड की दैनिक मात्रा कितनी होनी चाहिए। डॉक्टर इसकी सही जानकारी दे सकते हैं।

4. महिलाओं में होने वाली पीसीओएस (PCOS- Polcystic ovary syndrome) एक ऐसी अवस्था है, जिसमें महिलाओं का मासिक चक्र बिगड़ जाता है, उनको मोटापा होने लगता है, चेहरे पर कील-मुहांसे और बाल आने लगते है और कैंसर जैसी बीमारी होने का खतरा रहता है। ऐसे में महिलाओं को अपनी डाइट का ध्यान रखना बहुत जरूरी है।

पीसीओएस से ग्रस्त महिलाओं की डाइट थेरेपी में विटामिन-डी और विटामिन-सी के साथ-साथ फोलिक एसिड की भी भरपूर मात्रा की जरूरत होती है। फोलिक एसिड पीसीओएस की अवस्था में होमोसिस्टीन जोकि एक amino acid है, उसकी मात्रा को संतुलित करने का काम भी करता है।

 

फोलिक एसिड कैसे काम करता है – How does folic acid work?

फोलिक एसिड का इस्तेमाल एक सप्लीमेंट के रूप में folate की कमी को पूरा करने के लिए किया जाता है। हर मनुष्य के शरीर को प्रतिदिन पोषक तत्व की जरूरत पडती है और फोलिक एसिड भी शरीर को स्वास्थ्य रखने और बीमारियों से लड़ने के लिए पोषक तत्वों में से एक है।  

फोलिक एसिड एक प्रकार का विटामिन बी है। जो कुछ सब्जियों फलों और नट्स में पाए जाते हैं। नई लाल रक्त कोशिकाओं का निर्माण करने में विटामिन बी मदद करता है। क्योंकि शरीर के सभी हिस्सों में ऑक्सीजन पहुंचाने का काम ये लाल रक्त कोशिकाएं करती हैं। जब शरीर में Vitamin B कम होता है तब फोलिक एसिड की गोलियों का सेवन किया जाता है।   

 

फोलिक एसिड युक्त फल – Folic Acid Fruits in Hindi

folic acid tablet uses in hindi

फोलिक एसिड कई फल और सब्जियों में पाया जाता है। मनुष्य को स्वस्थ रहने के लिए प्रचुर मात्रा में पोषक तत्वों की जरूरत होती है। तो चलिए जानते है फोलिक एसिड की कमी को पूरा करने के लिए कौन से फल और सब्जियां खानी चाहिए :-

– एवोकाडो (Avocado) 

– संतरा 

– पपीता

– केले

– नट्स (nuts)

– अंडे

– फलियां (beans)

– चुकंदर (Beets)

– खट्टे फल

– हरी पत्तेदार सब्जियां

– ब्रसल स्प्राउट (Brussels Sprouts)

– ब्रोकोली (Broccoli) आदि।

मनुष्य के शरीर को स्वास्थ्य रखने के लिए Proteins, Carbohydrates, Minerals, Vitamins व अन्य कई तत्वों की जरूरत होती है। हम सब जानते है विटामिन हमारे शरीर के लिए कितने अधिक महत्वपूर्ण है। विटामिन कई प्रकार के होते हैं जैसे:- विटामिन ए, बी, सी, डी, ई आदि। 

विटामिन बी में विटामिनों का समूह होता है जिसमें सभी प्रकार के विटामिन होते हैं। जो मनुष्य के शरीर के लिए बहुत ही अधिक महत्वपूर्ण होता है। फोलिक एसिड में विटामिन बी पाया जाता है। इसलिए गर्भवती महिलाओं को डॉक्टर के द्वारा फोलिक एसिड खाने की सलाह दी जाती है।

 

फोलिक एसिड युक्त खाद्य पदार्थ – Foods Rich in Folic Acid 

sources of folic acid

 1. फोलिक एसिड से भरपूर सोयाबीन:-

सोयाबीन खाने में बहुत ही स्वादिष्ट होता है सोयाबीन में बहुत अधिक पोषक तत्व होते हैं। सोयाबीन में प्रचुर मात्रा में फोलिक एसिड भी पाया जाता है। फोलिक एसिड की कमी को पूरा करने के लिए आपको नियमित रूप से सोयाबीन को खाना चाहिए। सोयाबीन के एक कप में 186 से 256 ग्राम फोलिक एसिड पाया जाता है। सोयाबीन में बहुत अधिक मात्रा में प्रोटीन भी पाया जाता है। जो शरीर और स्वास्थ्य के लिए आवश्यक है। 

सोयाबीन का सेवन करने से शरीर में bad cholesterol के स्तर को कंट्रोल किया जा सकता है। सोयाबीन हृदय के रोगों को काफी हद तक कम कर देता है। 

 

2. भिन्डी में फोलिक एसिड:-

भिन्डी पाचन के लिए बढ़िया है। भिन्डी शरीर में विषाक्त निर्माण को खत्म करती है। एक कप भेंडी में 37 माइक्रोग्राम फोलिक एसिड पाया जाता है। भिन्डी फाइबर, विटामिन सी समृद्ध है, भिन्डी का उपयोग प्रोटीन के अच्छे स्रोत के रूप में भी किया जा सकता है। 

 

3. फोलिक एसिड युक्त फल केला:-

केला अनेक पोषक तत्वों से भरा होता है। जो हमारे शरीर के लिए आवश्यक होते है ऐसे में हम यदि प्रतिदिन केले को खाते हैं तो हमारा शरीर भी स्वास्थ्य रहता है। एक मध्यम केले में 24 मिलीग्राम फोलिक एसिड पाया जाता है। मनुष्य के नर्वस सिस्टम को सही ढंग से कार्य करने के लिए केले में पाए जाने वाले विटामिन सहायता करते हैं। इसके साथ ही यह रक्त में शुगर की मात्रा को नार्मल रखने में मदद करता हैं।

 

4. टमाटर करे दूर फोलिक एसिड की कमी :-

फोलिक एसिड टमाटर में भी पाया जाता है और फोलिक एसिड के मामले में टमाटर एक बहुत ही महत्वपूर्ण फल या सब्जी है। एक कप टमाटर के गूदे में लगभग 149 ग्राम फोलिक एसिड पाया जाता है। टमाटर सिर्फ खाने के लिए ही नहीं बल्कि इसका इस्तेमाल हमारे त्वचा और बालों के लिए भी किया जाता है जो बहुत ही फायदेमंद होता है। टमाटर में लाइकोपिन और बीटा कैरोटीन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है इसी कारण टमाटर एक एंटी ऑक्साइड की तरह कार्य करता है।

 

5. गाजर के सेवन से दूर करें फोलिक एसिड की कमी :- 

लोगों को गाजर का हलवा खाना बहुत पसंद होता है और उसे लोग बहुत चाव से खाते भी हैं। जो लोग कच्ची गाजर खाना पसंद नहीं करते, तो उन लोगों को अपनी आदतें बदलनी चाहिए, क्योंकि गाजर में विटामिन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। बल्कि इसमें फोलिक एसिड का भी भरपूर भंडार होता है।

गाजर बीटा-कैरोटीन, फाइबर और कई अन्य सूक्ष्म पोषक तत्वों का भी एक समृद्ध स्रोत है। जिन लोगों को आंखों से संबंधित समस्याएं हैं और जिन लोगों के शरीर में फोलिक एसिड की कमी है। उन्हें गाजर का सेवन जरूर करना चाहिए।

 

6. मसूर की दाल से पाएं फोलिक एसिड:-

मसूर की दाल में भरपूर मात्रा में पोटेशियम पाया जाता है। जिन लोगों को ब्लड प्रेशर की समस्याएं हैं उन्हें मसूर की दाल का सेवन करना चाहिए। मसूर की दाल में फोलिक एसिड भी अधिक मात्रा में पाया जाता है। एक कप मसूर की दाल में 192 ग्राम फोलिक एसिड होता है। जो लोग शाकाहारी होते हैं मांसाहारी चीजों को नहीं खाते उनके लिए मसूर की दाल से बेहतर ऑप्शन कोई नहीं हो सकता। शाकाहारी लोग विटामिंस, प्रोटींस और फोलिक एसिड मसूर की दाल को खाकर भरपूर मात्रा में प्राप्त कर सकते हैं।

 

7. फोलिक एसिड की कमी को दूर करे रोज़मेरी और तुलसी:- 

रोज़मेरी और तुलसी जैसी कुछ जड़ी-बूटियाँ फोलेट के अच्छे स्रोत हैं। रोज़मेरी के एक बड़े चम्मच में 1.6 मिलीग्राम और तुलसी के 2 बड़े चम्मच में 3.6 मिलीग्राम फोलेट होता है। इसलिए फोलिक एसिड की कमी को दूर करने के लिए आज से ही रोज़मेरी और तुलसी का सेवन शुरू कर दें। 

 

फोलिक एसिड कब खाना चाहिए? – When should we eat folic acid?

स्वस्थ रहने के लिए सभी को फोलिक एसिड की आवश्यकता होती है। लेकिन यह महिलाओं के लिए विशेष रूप से महत्वपूर्ण है। डाक्टर मानते हैं कि प्रेगनेंसी के कम से कम 3 माह पहले फोलिक एसिड का सेवन महिला को शुरू कर देना चाहिए। फोलिक एसिड नवजात ट्यूब दोष नामक गंभीर जन्म दोषों के खिलाफ अजन्मे बच्चों की रक्षा करता है। गर्भावस्था के पहले कुछ हफ्तों में ये जन्म दोष होता हैं ऐसे जन्म दोष और गर्भावस्था के प्रारंभिक नुकसान (गर्भपात) को रोकने के लिए फोलिक एसिड मदद करता है।

 

फोलिक एसिड के कुछ साइड इफेक्ट्स भी देखें गए हैं जैसे:-

folic acid side effects

1. शरीर पर रैशेस होना

2. मत्तली

3. खुजली होना

4. पेट फूलना

5. त्वचा का फड़कना

6. एलर्जिक रिएक्शन

7. नींद की बीमारी

8. व्यवहार में परिवर्तन

फोलिक एसिड के अपने फायदे और नुकसान हैं। गर्भधारण के लिए इसके बहुत अधिक लाभ हैं। लेकिन अधिक मात्रा में इसका सेवन नुकसान भी पहुँचा सकता है।

फोलिक एसिड एक आवश्यक विटामिन है जो मानव शरीर के चयापचय और इष्टतम कामकाज के लिए आवश्यक है। आप जो भोजन प्रतिदिन खाते हैं वह इस विटामिन से भरपूर होता है। आपको केवल उन्हें पर्याप्त मात्रा में खाना होता है।

याद रखें, यह और अन्य सभी दवाएं बच्चों की पहुंच से दूर रखें, कभी भी अपनी दवाओं को दूसरों के साथ साझा न करें, और केवल निर्धारित संकेत के लिए फोलिक एसिड का उपयोग करें।

 

 


 

इस वेबसाइट की सभी जानकारी केवल अच्छे विश्वास और सामान्य सूचना उद्देश्य के लिए प्रकाशित की जाती है। स्वास्थ्य या फिटनेस समस्या या बीमारी के निदान के लिए मरीजों को यहां मौजूद जानकारी का उपयोग नहीं करना चाहिए। हमारा आपसे से यह निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें।

Article by:- Manoj kumar

Image credit:-  canva, freepik